Hindi Motivational story – Trust on god – विश्वास

vishwas

रात के ढ़ाई बजे थे
एक सेठ को नींद नहीं आ रही थी
वह घर में चक्कर पर चक्कर लगाये जा रहा था पर उसे चैन नहीं पड़ रहा था
आख़िर थक कर नीचे उतर आया और कार निकाली |

वह शहर की सड़कों पर निकल गया
रास्ते में एक मंदिर दिखा तो सोचा कि थोड़ी देर इस मंदिर में जाकर भगवान के पास बैठता हूँ, प्रार्थना करता हूँ तो शायद शांति मिल जाये |

वह सेठ मंदिर के अंदर गया तो देखा,
एक दूसरा आदमी पहले से ही भगवान की मूर्ति के सामने बैठा था मगर उसका चेहरा उदास था और आँखों में करूणा झलक रही थी |

सेठ ने पूछा – क्यों भाई इतनी रात को मंदिर में क्या कर रहे हो…??

आदमी ने कहा – मेरी पत्नी अस्पताल में है, सुबह यदि उसका आपरेशन नहीं हुआ तो वह मर जायेगी और मेरे पास आपरेशन के लिए पैसा नहीं है |

उसकी बात सुन कर सेठ ने जेब में जितने रूपए थे वह उसने उस आदमी को दे दिये
अब गरीब आदमी के चहरे पर चमक आ गईं थी |

सेठ ने अपना कार्ड दिया और कहा इसमें फोन नम्बर और पता भी है और ज़रूरत हो तो निसंकोच बताना |

उस गरीब आदमी ने कार्ड वापिस दे दिया और कहा,
मेरे पास उसका पता है इस पते की ज़रूरत नहीं है सेठ जी |

आश्चर्य से सेठ ने कहा – किसका पता है भाई…??

उस गरीब आदमी ने कहा – जिसने रात को ढ़ाई बजे आपको यहाँ भेजा उसका |

इतने अटूट विश्वास से सारे कार्य पूर्ण हो जाते हैं |

 

vishwas

Leave a Reply

Close Menu